5000 रुपए क्विंटल पहुंची सरसों: स्टॉकिस्ट के सक्रिय होने से पखवाड़े भर बाद फिर संभला सरसों बाजार, रखे सौदों में तेजी


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरतपुर17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भरतपुर। मंडी में करीब 15 हजार कट्टे सरसों की आवक हुई।

लगातार टूट रहे सरसों के भावों में पखवाड़े भर बाद शुक्रवार की शाम तेजी आई है। सुबह सरसों 4900 रुपए क्विंटल बिकी, लेकिन शाम को एनसीडीईएक्स (राष्ट्रीय कमोडिटी एंड डेरिवेटिव एक्सचेंज) ने 118 रुपए की तेजी दिखाई। इसके तुरंत बाद सटोरिये और स्टॉकिस्ट सक्रिय हो गए। इसलिए रखे हुए सौदों में 100 रुपए की तेजी आ गई।

प्रमुख आढ़तिया भूपेंद्र गोयल का कहना है कि एनसीडीईएक्स में गत दिवस 105 रुपए की कमी थी, लेकिन शुक्रवार को 118 रुपए की तेजी थी। इस कारण लेवाली बढ़ गई। फलस्वरूप रखे हुए सौदे 5 हजार रुपए क्विंटल में हुए। जानकारों का कहना है कि अगले तीन-चार दिन सरसों में तेजी रहेगी।

ऐसे में सरसों की आवक भी बढेग़ी क्योंकि इन दिनों सरसों कटाई परवान पर आ चुकी है। शुक्रवार को मंडी में करीब 15 हजार कट्टे सरसों की आवक हुई। सरसों की आवक दबाव होने के बाद भी तेजी रहने अथवा भाव स्थिर रहने की संभावना है।

तेल कारोबारी पुनीत टोनी का कहना है कि सोयाबीन के भाव भी सरसों के करीब है। ऐसे में रिफाइंड मिलों में भी सरसों की डिमांड बढ़ गई है। इधर सरसों तेल की डिमांड फिर से निकल आई हैं। इस कारण तेल मिलर्स भी स्टाक करने लगे हैं। सरसों तेल मिलर्स का भी मानना है कि सरसों सरकारी समर्थन मूल्य से नीचे नहीं जाएगी। उल्लेखनीय है कि सरकारी समर्थन मूल्य 4625 रुपए है।

(रिपोर्ट: प्रमोद कल्याण)

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *