सेना की तरह अनुसाशित रहे: सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं ने भरतपुर में निकाली रैली, बोले-कोरोना खत्म अब कीजिए भर्ती, ढाई साल से कर रहे इंतजार


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरपतपुर27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भरतपुर। सेना में भर्ती की मांग को लेकर धरना देते युवा।

  • रैली लोहागढ़ स्टेडियम से प्रारंभ होकर लक्ष्मण मंदिर, चौबुर्जा होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंची
  • SDM को ज्ञापन देकर 10 दिन में सेना भर्ती तिथि घोषित करवाने की मांग की

सेना भर्ती का इंतजार कर रहे हजारों युवाओं ने गुरुवार को शहर में रैली निकाली। बिना किसी बैनर निकली यह रैली भी सेना की दौड़ की तरह अनुशासित थी। युवा इंडियन आर्मी जिंदाबाद, भारत माता की जय और वंदेमातरम के गगनभेदी नारों के साथ भर्ती किए जाने की मांग कर रहे थे।

रैली लोहागढ़ स्टेडियम से प्रारंभ हुई और कुम्हेर गेट, कोतवाली, लक्ष्मण मंदिर, चौबुर्जा होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंची। बाद में प्रतीकात्मक धरना दिया। इस मौके पर बृज विश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष दिनेश भातरा ने कहा कि कई साल से सेना भर्ती नहीं हुई है। सेना भर्ती इस साल 13 अप्रैल से होनी थी, जिसे स्थगित कर दिया गया है।

अन्य भर्तियां भी नहीं निकाली जा रही हैं। गहलोत सरकार संभाग के युवाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है। बेरोजगारों को भत्ता नहीं दिया जा रहा है। लोहागढ़ स्टेडियम में पीने के पानी, लाइट, वॉशरूम की व्यवस्था नहीं है। ट्रैक पर गड्ढे हैं, जिससे सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं को परेशानी होती है।

SDM को ज्ञापन देने से पहले धरना देते युवा।

SDM को ज्ञापन देने से पहले धरना देते युवा।

बाद में SDM सिटी को ज्ञापन सौंपा, जिसमें 10 दिन में सेना भर्ती तिथि घोषित करवाने तथा लोहागढ़ स्टेडियम की व्यवस्थाओं को सुधरवाने की मांग की है। अन्यथा एक मार्च को बड़ी संख्या मे धरना दिया जाएगा। इस मौके पर दीपक सिंह, अनिल कुमार, लोकेश पाराशर, अंकित, कालू, विशन सिंह, पुष्पेंद्र गुर्जर, अजय सिंह, पुष्पेंद्र शेखपुर आदि ने भी विचार रखे।

मजबूत कद काठी के युवा, हर साल होती आई भर्ती, कोरोना के कारण ढाई साल से बंद
भरतपुर के युवा मजबूत कद काठी और जोशीले हैं। इसलिए भरतपुर में सेना हर साल भर्ती के लिए शिविर लगाती है। सेना भर्ती को लेकर युवाओं में जोश भी जबरदस्त रहता आया है। लास्ट भर्ती दौड़ 18 से 31 जुलाई 2018 में हुई थी, जिसमें 350 पदों के लिए 33 हजार 885 युवाओं ने दौड़ लगाई थी जिसमें पहाड़ी,कामां व डीग के 4,513 युवा, नगर, कुम्हेर व नदबई के 6522, भरतपुर व रूपवास के 6060, वैर व बयाना तथा सैंपऊ के 5223, बाड़ी, बसेड़ी, राजाखेडा़, धौलपुर व नादौती के 5894 तथा टोडाभीम, करौली, हिंडौन, मंडरायल व सपोटरा के 5673 युवाओं ने दौड़ लगाई थी।

इसके अलावा उससे पिछले साल 26 अक्टूबर से 5 नंबर 2019 को सेना भर्ती रैली हुई थी, जिसमें करीब 30 हजार युवाओं ने दौड़ में हिस्सा लिया और 4557 पाए हुए। इनमें मेजरमेंट में 3411 अभ्यर्थी ही पास हो पाए थे। भर्ती सैनिक सामान्य पद, सैनिक क्लर्क, स्टोर कीपर टेक्निकल, सैनिक तकनीकी, सैनिक नर्सिंग सहायक, सैनिक ट्रेडमैन पद के लिए हुई थी।

(रिपोर्ट: प्रमोद कल्याण)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *