शादीशुदा प्रेमिका के नाम पर जमीन खरीदी: बेवफा ने पति के साथ मिलकर प्रेमी को खीर में नींद की 10 गोलियां खिलाईं, नहीं मरा तो चाकू से गला रेता


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हनुमानगढ़14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस गिरफ्त में आरोपी महिला सुमन। मृतक धर्मपाल की लाश सड़क किनारे मिली थी।

हनुमानगढ़ जिले के टाउन थाना क्षेत्र में मेडिकल स्टोर संचालक की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में पति-पत्नी को गिरफ्तार किया है। जांच में सामने आया कि मृतक धर्मपाल शर्मा के सुमन नाम की महिला के साथ अवैध संबंध थे। उसी ने अपने पति रायसिंह मेघवाल के साथ मिलकर धर्मपाल की हत्या की। दोनों ने पहले धर्मपाल को खीर में नींद की 10 गोलियां मिलाकर पिला दी। इसके बाद गले पर चाकू मारकर हत्या कर दी।

पुलिस के मुताबिक, मृतक धर्मपाल 15 साल से खिलेरीबास गांव में मेडिकल की दुकान चलाता था। वह वहां कुछ साल तक सुमन के घर पर किराए पर रहा था। धर्मपाल का खाना बनाने और कपड़े धोने का काम सुमन ही किया करती थी। इस दौरान दोनों में प्रेम प्रसंग हो गया।

उसी दौरान धर्मपाल ने सुमन के नाम पर एक जमीन ले रखी थी। जिस पर मेडिकल स्टोर बनवाया। साथ ही ऊपर एक कमरा बनाकर रहने लगा। उसी के बगल मे एक दुकान बनाकर उसे किराए पर दे दिया। मकान और दुकान पर कब्जा करने के लिए सुमन और उसके पति ने धर्मपाल की हत्या की साजिश रची।

आरोपी महिला सुमन और पति रायसिंह मेघवाल पुलिस की गिरफ्त में।

आरोपी महिला सुमन और पति रायसिंह मेघवाल पुलिस की गिरफ्त में।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि 9 जनवरी को सुमन ने धर्मपाल का खाना उसके मकान पर नहीं भिजवाया। इसके बाद फोन करके खाना खाने के लिए घर बुलाया। इस दौरान खीर में नशे की 10 गोलियां मिलाकर पिला दी। नींद की गोलियों से मौत नहीं होने पर दोनों ने चाकू से वार करके धर्मपाल की हत्या कर दी। इसके बाद सुमन और रायसिंह मेघवाल धर्मपाल की लाश को मोटरसाइकिल पर बांधकर ले गए और घर से दूर सड़क पर डाल आए।

जिले के देवासर गांव के रहने वाले धर्मपाल शर्मा की लाश सड़क पर पड़ी मिली थी।

जिले के देवासर गांव के रहने वाले धर्मपाल शर्मा की लाश सड़क पर पड़ी मिली थी।

कॉल डिटेल से हुआ खुलासा
धर्मपाल की लाश बरामद होने के बाद पुलिस ने जांच के लिए टीम का गठन किया। साथ ही मुखबिरों से पूछताछ की गई। इस दौरान लोकेशन ट्रेस कर मोबाइल को कब्जे में लिया गया। इसमें अंतिम कॉल रायसिंह के मोबाइल पर की गई थी। इसके घर घर्मपाल का आना जाना लगा रहता था। पुलिस ने पति-पत्नी को लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या की बात कबूल ली।

रिपोर्ट- विशु वॉट्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *