विधान सभा उप चुनाव-2021: प्रशासनिक नोडल अधिकारी की निगरानी में होंगी राजनैतिक दलों की सभाएं, रैली और अन्य कार्यक्रम


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Assemblies, Rallies And Other Events Of Political Parties Will Be Under The Supervision Of The Administrative Nodal Officer

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

तीन जिलों में होने वाले उपचुनाव की समीक्षा बैठक में अधिकारियों के साथ ACEO कृष्ण कुणाल।

  • कोरोना को देखते हुए अति.मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दिए निर्देश

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी कृष्ण कुणाल ने प्रदेश के तीन जिलों में होने वाले उपचुनाव के दौरान जिले की मेडिकल टीम के साथ प्रशासनिक स्तर पर भी नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए हैं, जो कि राजनैतिक सभाओं, रैलियों व अन्य कार्यक्रमों में कोविड संबंधी दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करवाएंगे।

कुणाल शनिवार को चुरू, भीलवाड़ा और राजसमंद के जिला निर्वाचन अधिकारियों व उप जिला निर्वाचन अधिकारियों और रिटर्निंग अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उप चुनाव के संबंध में तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के तीन जिलों में होने वाले विधानसभा उप चुनाव के लिए नामांकन पत्र 23 मार्च से अधिसूचना जारी होने के साथ प्रारंभ हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी कोविड संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की कड़ाई से पालना के साथ नामांकन व अन्य निर्वाचन प्रक्रिया संपादित करवाएं। उन्होंने कहा कि नामांकन के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाए और प्रार्थी के अलावा केवल दो लोगों को ही अंदर आने की अनुमति दी जाए।

ACEO ने कहा कि ऑनलाइन नामांकन की सुविधा का भी ज्यादा से ज्यादा प्रचार किया जाए ताकि उम्मीदवार घर बैठे भी आवेदन कर सके। इस दौरान नामांकन पत्र भरने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में मास्टर लेवल ट्रेनर प्रतिभा पारीक ने सभी अधिकारियों को प्रशिक्षण भी दिया। इस दौरान 80 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों, 40 फीसद से ज्यादा अक्षमता वाले दिव्यांगजन और क्वारंटीन में रह रहे मतदाताओं को पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराने की और वापस प्राप्त करने, आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवारों द्वारा भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दी गई समय सीमा में विज्ञापन प्रकाशित करने, मतगणना केंद्रों की स्थापना करने जैसे कई महत्वपूर्ण विषयों पर भी चर्चा की गई। इस दौरान तीनों जिलों में विभिन्न प्रकार की होने वाले प्रशिक्षण सत्रों के बारे में भी कलेंडर जारी किया गया।

यहां होने हैं उपचुनाव

राजसमंद जिले की राजसंमद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा और चूरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभा सीटों के लिए 17 अप्रेल को मतदान होगा, जबकि मतगणना 2 मई को कराई जाएगी। तीनों विधानसभाओं में कुल 7 लाख 43 हजार 802 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे, इनमें 3 लाख 80 हजार 192 पुरुष व 3 लाख 63 हजार 610 महिला मतदाता हैं। समीक्षा बैठक में निर्वाचन विभाग के विशेषाधिकारी सुरेश चंद्र, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी एमएम तिवारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनोद पारीक सहित कई अधिकारीगण उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *