विकास के फैसले का दिन: नप की बजट बैठक आज, हंगामे के आसार


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अलवर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • भाजपा पार्षद बजट बैठक से पहले तय करेंगे रणनीति, विकास पर होगी चर्चा

नगर परिषद के बजट को पास काे लेकर पार्षदों की अलग-अलग राय हैं। यह तय है कि इस बार बजट बैठक में आरोप प्रत्यारोप का जमकर दाैर चलेगा। शाेर शराबा व हंगामा भी हाेगा। पार्षद इस पक्ष में है कि सदन में बजट के हर बिंदु पर बहस हाे। इसके बीच सभापति बीना गुप्ता काे विश्वास है कि इस बार का बजट बैठक में ही पास हाे जाएगा।

पार्षदों यह भी कह रहे है कि पिछली बार हमारे काम में दिक्कतें आई। जनता के बीच हमारी छवि खराब हुई। इसलिए सभापति से स्थानीय मुद्दाें पर बहस करने के बाद बजट प्रस्तावाें काे पास करने पर सहमति हाे सकती है। उल्लेखनीय है कि परिषद में चुनाव के समय कांग्रेस के पास बहुमत नहीं था, उसके बाद भी बोर्ड बन गया था। परंतु गत वर्ष बजट पास नहीं हो सका था।

बजट बैठक आज
नगर परिषद की बजट बैठक रविवार काे सुबह 11 बजे से परिषद के सभा भवन में आयाेजित की जाएगी। इसमें वर्ष 2021-22 का 106 कराेड से अधिक की आय और 102 कराेड़ की व्यय वाला बजट पेश किया जाएगा। बजट सदन में सभापति रखेंगी। इसके बाद बैठक में चर्चा हाेगी।

सभापति का आग्रह-राजनीति से ऊपर उठकर शहर के विकास की बात करें

  • सभापति बीना गुप्ता ने कहा कि इस बार का बजट पास हाेगा। क्योंकि दलगत राजनीति के बजाए शहर के विकास पर जाेर देंगे। बजट पर बहस हाेगी। दलगत राजनीति के बजाए जनहित पर जाेर देेंगे। पार्षदों के सवालाें का जवाब भी देंगे।
  • उप सभापति घनश्याम गुर्जर का कहना है कि मामले काे लेकर भाजपा पार्षदों की बैठक रविवार काे सुबह 9 बजे हाेगी। इसमें फैसला हाेगा कि क्या रणनीति अपनाई जाए। इस बारे में पार्षदों की राय भी जानी जाएगी।
  • भाजपा पार्षद धीरज जैन का कहना है कि 14 महीने से काेई विकास नहीं हुआ है। विकास के लिए व जनहित के कार्याे केे लिए बैठक में सभापति और आयुक्त जवाब देते हैं ताे बजट पास करने में काेई दिक्कत नहीं आएगी। निर्दलीय पार्षद अजय पूनिया ने बताया कि कांग्रेस का न ताे बहुमत है। न ही विकास के कार्य बजट में रखे है, इसलिए बजट के पास हाेने की संभावना नहीं है। बाेर्ड पक्ष के पार्षदों ही विराेध करेंगे।
  • कांग्रेस के पार्षद नरेंद्र मीणा का कहना है कि हम जनता की बात रखना चाहते है। हमारी बात सुनी गई ताे हम जनहित काे रखेंगे। हमारी बात नहीं सुनी गई ताे फिर हम विराेध भी करेंगे। क्याेंकि सवा साल में यह तीसरी ही बैठक ही हाेगी। सफाई और राेशनी या जनहित काे लेकर काेई बैठक नहीं हुई है। सफाई ठेके खुद तय किए है। जनहित के मुद्दाें काे लेकर जवाब नहीं मिले ताे खिलाफत करेंगे।
  • कांग्रेस के पार्षद अजय मेठी का कहना है हमारी लड़ाई भ्रष्टाचार के खिलाफ है। सभापति ने हम पर अाराेप भी लगाए। इन अाराेपाें का जवाब मांगेंगे। उनके पास सबूत है ताे हमारी जांच कराए। नहीं हाे हम सबूत देंगे। उनकी भी जांच हाेनी चाहिए।
  • भाजपा के पार्षद सतीश यादव का कहना है कि शहर का विकास हाे। इसके लिए हम सवाल जवाब करेंगे। शहर के विकास के लिए पार्षदों के जवाब सभापति देती है ताे बजट पास हाे सकता है। हम विकास, राेड लाइट व सफाई काे लेकर बजट में रखे प्रावधानाें पर बात करेंगे।

इन पार्षदों ने यह भी कहा
कमला सैनी, दुर्गा सिंह, सुनील चाैधरी, घनश्याम साेनी, अविनाश खंडेलवाल व देवेंद्र रसगनिया का कहना है कि पिछली बार विकास के कार्य हम नहीं करा पाए। इस बार चाहते है कि शहर में विकास के कार्य हाे। जनता हमसे पूछती है कि आपने क्या विकास कराया। इसकाे देखते हुए हम चाहते है कि बजट बैठक में ही पास हाे जाए।

बजट से पहले सभापति व पार्षदों को जनता से किए वादे याद दिलाए
युवा शक्ति समिति की ओर से शनिवार को अम्बेडकर चौराहे पर डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के सामने खड़े होकर नगर परिषद की बजट बैठक से पहले सभापति और पार्षदों को जनता से किए वादों को याद दिलाया। कार्यक्रम संयोजक अमित जोगी ने बताया कि पार्षद चुने गए और नगर परिषद बोर्ड बना तो शहरवासियों को विकास की उम्मीद थी, लेकिन अब नगर परिषद में सत्ता पक्ष का ही तालमेल नहीं होने से बोर्ड आमजन की उम्मीदों पर खरा उतरने में विफल रहा है, जिससे विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं।

विरोध के कारण ही पिछले साल पेश बजट सरकार काे भेजना पड़ा। इसी क्रम में सभापति और पार्षदों को बजट की कॉपी लेकर जनता किए वादों को याद दिलाया। मुख्य वक्ता समाजसेवी जीतू अग्रवाल ने इसे जनता के प्रति बोर्ड और राज्य सरकार की लापरवाही बताया। संस्थान सचिव कुश कौशिक ने आभार जताया। इस मौके पर सुशील शर्मा, जितेन्द्र गोयल, मनोज चौहान, संजय परमार, डॉ. रवि यादव, काका राजपूत, ऋषभ खत्री आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *