लेनदेन के विवाद की आशंका: मथुरा गेट पर फाइनेंस कंपनी के दफ्तर में फायरिंग, 90 हजार रुपए लूट ले गए


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरतपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • 16 घंटे बाद एफआईआर, मुल्जिम भी नामजद

मथुरा गेट इलाके में बदमाशों ने एक फाइनेंस कंपनी के दफ्तर में फायरिंग कर दी। कर्मचारियों से मारपीट करके 90 हजार रुपए लूट ले गए। चूंकि यह घटना बुधवार देर शाम करीब 8.30 बजे की है। लेकिन, इसकी रिपोर्ट लगभग 16 घंटे बाद गुरुवार दोपहर 2 बजे दर्ज कराई गई है। ज्यादातर मुल्जिम भी नामजद किए गए हैं। इसलिए मामला आपसी लेन-देन का होने की संभावना है। फाइनेंस कंपनी संचालक रोहित चौधरी की ओर से दर्ज कराई एफआईआर के मुताबिक वह बुधवार रात करीब 8.30 बजे सरकुलर रोड स्थित तक्षक बिल्डिंग मेटेरियल की दुकान के पास अपने ऑफिस में काम कर रहा था। उस समय ग्राहक पवन शर्मा, गौरव शर्मा और बैंक ऑफ बड़ौदा के सह प्रबंधक तरूण जैन के साथ लोन के संदर्भ में बातचीत चल रही थी।

तभी लक्की पुत्र हम्मवीर सिंह निवासी तुहिया, प्रभाव निवासी जघीना शेर सिंह उर्फ भोला निवासी जघीना और सांतरुक निवासी अनिल 8-10 लोगों को लेकर वहां आए। आते ही उन्होंने जान से मारने की नीयत से फायरिंग शुरू कर दी। पिस्टल तान कर 90 हजार रुपए लूट लिए। जब हमने उनका विरोध किया तो उन्होंने हमें पिस्टल की बटों, हॉकी, डंडों और सरियों से पीटा। ऑफिस में तोड़फोड़ करने के साथ ही गाड़ियों को भी तोड़ा और फायरिंग करते हुए भाग गए।

बड़ा सवाल…पुलिस को सूचित क्यों नहीं किया
इस मामले में बड़ा सवाल यह है कि जब लूट और फायरिंग जैसी वारदात हुई थी तो आसपास के लोगों को पता चलना चाहिए था। लेकिन, किसी को भनक तक नहीं लगी। यहां तक कि कंपनी के किसी भी पीड़ित कर्मचारी ने रात को ही पुलिस कंट्रोल रूम को 100 नंबर पर सूचना क्यों नहीं दी। जबकि पीड़ित संचालक अथवा कर्मचारी रात को ही मथुरा गेट थाने पर जाकर भी इस घटना की सूचना दे सकते थे। लेकिन, नामजद एफआईआर अगले दिन दोपहर 2 बजे दर्ज कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *