लापरवाही पड़ी भारी: थानेदार ने कहा, सीएम की सभा मेरे क्षेत्र में नहीं है, दो दिन बाद थाने से ही हटा दिया


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीकानेर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

श्रीडूंगरगढ़ के धनेरु में हुई सभा में मुख्यमंत्री व पूर्व उपमुख्यमंत्री के साथ कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए थे। ऐसे में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी बीकानेर व चूरू से तैनात हुए थे।

बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सभा में लापरवाही बरतने पर चूरू के एक थानाधिकारी को लाइन हाजिर कर दिया गया है। दरअसल, सीएम सिक्योरिटी टीम ने सांडवा के थानाधिकारी को दिशा निर्देश दिए थे। इस पर थानाधिकारी हंसराज ने कहा कि मुख्यमंत्री की सभा उनके क्षेत्र में नहीं हो रही, बल्कि बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ में हो रही है। दिशा निर्देश भी बीकानेर के पुलिस अधिकारियों को दिए जाने चाहिए। उस वक्त तो सीएम सिक्योरिटी सेल ने कुछ नहीं कहा लेकिन बाद में इस बारे में आला अधिकारियों को सूचना कर दी गई। बीकानेर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक प्रफुल्ल कुमार को भी इस स्थिति से अवगत कराया गया। मंगलवार को हंसराज को प्रशासनिक कारण बताते हुए थाने से हटा दिया गया है। हंसराज को फिलहाल चूरू लाइन पुलिस में हाजिरी देने के निर्देश दिए गए हैं।

दरअसल, बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ के धनेरु गांव में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, राजस्थान प्रभारी अजय माकन और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द डोटासरा की मीटिंग हुई थी। यह मीटिंग तो बीकानेर में हुई लेकिन इसका पूरा फोकस चूरू की सुजानगढ़ सीट ही थी। ऐसे में सीएम सिक्योरिटी फोर्स ने भी चूरू के सांडवा थानाधिकारी को निर्देश दिए। सांडवा थाना क्षेत्र धनेरु गांव से सटा हुआ है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *