राजस्थान में दुष्कर्मी का दुस्साहस: रेप के आरोपी ने जमानत पर छूटते ही पीड़िता को जिंदा जलाया, 70 प्रतिशत तक झुलसी


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हनुमानगढ़/गोलूवाला10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हनुमानगढ़ में जिंदा जलाए जाने से बुरी तरह झुलसी दुष्कर्म पीड़िता।

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपी ने बुधवार रात करीब एक बजे पीड़िता की हत्या करने के लिए उसे जिंदा जला दिया। वह करीब 70 फीसदी तक झुलस गई। उसे गंभीर हालत में बीकानेर रेफर किया गया है। ब्यूटी पार्लर संचालिका पीड़िता पिछले कुछ समय से अपने पति से अलग नानी के पास रह रही है।

पुलिस ने आरोपी प्रदीप बिश्नोई को पकड़ लिया है। उससे पूछताछ जारी है। इससे पहले घटना की सूचना पाकर गुरुवार सुबह एसएचओ ओमप्रकाश सुथार ने टीम के साथ वार्ड 19 धानमंडी के पीछे स्थित घटनास्थल पर पहुंचकर बारीकी से मौका-मुआयना किया। यहां से एक खाली बोतल और कुछ अन्य सामान बरामद हुआ है, जो आग लगाने में इस्तेमाल किया गया।

पुलिस घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है, जिसमें ब्यूटी पार्लर संचालिका के घर के बाहर घटना के बाद एक युवक धानमंडी में भागता हुआ दिखाई दिया। पीड़िता की नानी के घर के बगल में ही एक कैमरा लगा हुआ है। इसमें बाइक पर सवार होकर आया एक युवक दिख रहा है।

दुष्कर्म का केस कराने का पीड़िता से लिया बदला!

पीड़िता ने दो साल पहले आरोपी प्रदीप बिश्नोई के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने उस मामले में आरोपी के खिलाफ चालान पेश किया था। मामला कोर्ट में विचाराधीन है। आरोपी प्रदीप फिलहाल जमानत पर था। ऐसे में पुलिस अब इस मामले को आग लगाकर हत्या प्रयास से जोड़कर देख रही है। उसे राउंडअप कर पूछताछ की जा रही है।

गोलूवाला थानाप्रभारी ओमप्रकाश सुथार का कहना है कि पीड़िता की नानी की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया गया है। मामले की हर एंगल से बारीकी से जांच की जा रही है। इस सनसनीखेज वारदात के बाद बड़ा सवाल ये है कि दुष्कर्म के आरोपियों को क्या इस तरह जमानत देकर खुलेआम बाहर घूमने की छूट दी जानी चाहिए।

दीवार फांदकर घुसा, भाई के कमरे का गेट बाहर से बंद किया और केरोसिन छिड़ककर आग लगा दी

पीड़िता की नानी ने एफआईआर में पुलिस को बताया कि मेरी नातिन ने प्रदीप बिश्नोई के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया था। इस पर आरोपी दीवार फांदकर घर में घुसा, फिर उसने भागने के लिए मेन गेट खोल दिया। मेरी नातिन का भाई बाहर के कमरे में ही सो रहा था।

आरोपी ने उसके कमरे के गेट पर रस्सी बांध दी ताकि गेट न खुल सके। फिर जिस कमरे में नातिन सो रही थी। उसके बाहर भारी मात्रा में केरोसिन छिड़क दिया। फिर उसके नाम से आवाज लगाकर बाहर बुलाया। जैसे ही वह बाहर आई तो आरोपी ने छड़ी पर कपड़ा लपेटकर केरोसिन में आग लगा दी। सिंथेटिक कपड़ों ने तुरंत आग पकड़ ली जिससे मेरी नातिन गंभीर रूप से झुलस गई। आरोपी मौके से फरार हो गया। नातिन पिछले काफी समय से पति से अलग मेरे साथ रह रही थी और ब्यूटी पार्लर चलाकर जीवनयापन कर रही है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *