राजधानी में 3 मिनट में 45 लाख की लूट: नकाबपोश बदमाश ने हवाला कर्मचारियों को पिस्टल दिखा मुंह व हाथ पर टेप चिपकाया, दिनदहाड़े रुपयों से भरा बैग लेकर पैदल ही फरार


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

CCTV फुटेज में नजर आया बदमाश। उसके कंधे पर रुपयों से भरा बैग लटका हुआ है। वह हेलमेट और दस्ताने पहने हुए है।

  • शहर के किशनपोल बाजार में खूंटेटों के रास्ते में एक मकान में हुई वारदात
  • दोपहर 12 बजकर 33 मिनट पर बदमाश आया और 3 मिनट में भाग निकला

जयपुर के किशनपोल बाजार में बुधवार को दिनदहाड़े एक नकाबपोश बदमाश ने हवाला कारोबारी के ऑफिस में 45 लाख रुपयों से भरा बैग लूट लिया। हैरानी की बात यह है कि बदमाश पैदल ही फरार हो गया। बदमाश ने यह वारदात महज 3 मिनट में कर डाली। उसने ऑफिस में मौजूद दो कर्मचारियों को पिस्टल दिखाकर उनके मुंह व हाथ पर प्लास्टिक टेप चिपका दिया था।

वारदात के करीब दो घंटे बाद हवाला कारोबारी ने कोतवाली थाने में सूचना दी। पुलिस कमिश्नरेट और नार्थ जिले के पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। देर रात तक पुलिस सीसीटीवी फुटेज में आए हुलिए के आधार पर लुटेरे की धरपकड़ में जुटी रही।

एक महीने पहले कमरा किराए पर लिया था
जानकारी के मुताबिक, गुजरात के रहने वाले रोहित कुमार ने करीब एक महीने पहले खूंटेटों के रास्ते में मकान नंबर 319 में राधावल्लभ शर्मा के यहां एक कमरा किराए पर लिया था। यहां उसने केडीएम एंटरप्राइजेज के नाम से ऑफिस खोला। जिसमें मनी ट्रांसफर और कोरियर का व्यवसाय करना बताया। यहां ऑफिस में रोहित का साला पार्थ और चित्रकूट वैशाली नगर निवासी प्रियांशु उर्फ बंटी बैठते थे। ये कुछ देर के लिए ही ऑफिस में आया जाया करते थे। रोजाना की तरह दोपहर को प्रियांशु और पार्थ ऑफिस में बैठे थे।

इस संकरी गली में बने मकान में है हवाला कारोबारी का ऑफिस, जहां लूट की वारदात हुई

इस संकरी गली में बने मकान में है हवाला कारोबारी का ऑफिस, जहां लूट की वारदात हुई

दोपहर 12.33 मिनट पर आया बदमाश, 12.36 मिनट पर 45 लाख लूटकर भागा

सीसीटीवी फुटेज में नजर आया कि बदमाश दोपहर करीब 12 बजकर 33 मिनट पर मकान में घुसा। उसने हेलमेट लगा रखा था। चेहरा स्कॉर्फ से ढक रखा था और हाथों में दस्ताने पहन रखे थे। वह ग्राउंड फ्लोर पर बने कमरे में घुसा। तब प्रियांशु और पार्थ को लगा कि कोई रुपए लेने आया है। तब उन्होंने बदमाश से कहा कि पर्ची दिखाओ।

तब बदमाश ने कपड़ों में छिपा रखी पिस्टल निकालते हुए कहा ले देख ले पर्ची। इसके बाद लुटेरे ने दोनों को धमकाते हुए पिस्टल लोड कर ली। लुटेरा अपने साथ प्लास्टिक टेप लेकर आया था। उसने पिस्टल तानकर दोनों को एक दूसरे के मुंह पर टेप चिपकाने को कहा। इसके बाद करीब 45 लाख रुपयों से भरा बैग लेकर चला गया।

डीसीपी क्राइम दिगंत आनंद घटनास्थल पर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम के पुलिसकर्मियों से जानकारी लेते हुए।

डीसीपी क्राइम दिगंत आनंद घटनास्थल पर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम के पुलिसकर्मियों से जानकारी लेते हुए।

पैदल ही चला गया बदमाश और पीड़ित ना चिल्लाए और नहीं दौड़कर पीछा किया

वारदात के बाद लुटेरा किशनपोल बाजार तक रुपयों से भरे बैग को कंधे पर लगाकर पैदल पैदल चला गया। वहीं, दूसरी तरफ ऑफिस में मौजूद प्रियांशु और पार्थ काफी देर अंदर ही रहे। फिर वे चौक में आकर खड़े हो गए। इसके बाद घर में ही एक और ऑफिस में मौजूद लोगों को रुपए लेकर जाने की बात कही। इसके बाद बाहर आकर मकान मालिक की दुकान पर पहुंचकर रुपए लूटने की जानकारी दी।

वे दोनों ना तो चिल्लाए। ना ही उन्होंने बदमाश का पीछा किया और एक अकेले बदमाश के पैदल वारदात करके चला जाना। पुलिस के गले नहीं उतर रहा है। ऐसे में प्रियांशु और पार्थ से भी पूछताछ चल रही है।वारदात के बाद डीसीपी नार्थ परिस देखमुख, डीसीपी क्राइम दिगंत आनंद, एडिशनल डीसीपी धर्मेंद्र सागर, डीएसटी और सीएसटी की स्पेशल टीमें और कोतवाली थाना पुलिस की टीमों के करीब 25 पुलिसकर्मी लुटेरे की तलाश में जुटे हुए है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *