महावीर मीणा हत्याकांड: हथियार तस्करी में धोद थाने को जिसकी तलाश थी वह लखनऊ में काट रहा था फरारी, 15 हजार रुपए घोषित कर रखा था इनाम


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • In The Arms Smuggling, The One Who Was Looking For The Dhad Police Station Was Cutting In Lucknow. The Team Of Ferrari, Sikar And IG Arrested The Prize Of 15,000.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीकरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

महावीर हत्याकांड में फरार बदमाश भगवान सिंह ततारपुरा गिरफ्तार।

हथियार तस्करी में धोद थाने का वांछित और जयपुर के महावीर हत्याकांड में फरार बदमाश भगवान सिंह ततारपुरा को एक ज्वांइट आपरेशन में लखनऊ से दबोचा है। वह पिछले 15 महीने से यूपी में ही फरारी काट रहा था। बदमाश पर जयपुर पुलिस ने 15 हजार का इनाम घोषित कर रखा है, क्योंकि महावीर हत्याकांड में गोली चलाने वाला भी भगवान सिंह ही है।

एएसपी देवेंद्र कुमार ने बताया कि पकड़ा गया बदमाश नागौर के गच्छीपुरा का भगवान सिंह तातेरपुरा है। वह बदमाश शिवराज जुरासिया के जरिए आनंदपाल गैंग से जुड़ा हुआ था। भगवान ने हरमाड़ा थाना इलाके में महावीर मीणा को गोली मारी थी।

पुलिस ने बताया कि एक बदमाश जीतू को धोद थाना पुलिस ने पकड़ा था। जीतू से पूछताछ के बाद सामने आया कि तस्करी में चार लोग शामिल थे। मध्यप्रदेश से दर्जनभर हथियार आए थे। इसमें कुछ हथियार भगवान सिंह के पास भी है। जिसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रखा है।

जीतू से पूछताछ में उसके यूपी में छिपे होने की जानकारी मिली थी। पुलिस उसकी लोकेशन टटोल रही थी, लेकिन वह हमेशा व्हाट्सअप कॉल से ही बात करता था। इसके बाद मुखबिरी का जाल बिछाया गया तो उसके लखनउ में फरारी काटने की बात सामने आई। इसके बाद रिजर्व एएसपी सिद्धान्त शर्मा की टीम के सहयोग से बदमाश को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर टिप्पणी से नाराज भगवान ने उसकी हरमाड़ा इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी थी। डीसीपी वेस्ट ने भगवान सिंह की गिरफ्तारी पर 5 हजार रुपए और पुलिस कमिश्नर ने 10 हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा है। फिलहाल धोद थाना में उसकी गिरफ्तारी दिखाई है। अब हरमाड़ा पुलिस उसे प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आएगी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *