मंडी व्यापारिपों ने किया प्रदर्शन: निवाई में व्यापारी के साथ लूट और हत्या के विरोध में कृष मंडी के व्यापारियों ने जताया आक्रोश, 2 घंटे रखी कृषि मंडी बंद


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सरदारशहर (चूरू)10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

टोंक की घटना के विरोध में प्रदर्शन करते मंडी व्यापारी।

टोंक जिले के निवाई में गुरुवार को एक कृषि व्यापारी से हुई लूट के विरोध में सरदारशहर सहित प्रदेश की समस्त 640 मंडियों ने प्रातः 11 से 1 बजे तक बंद रखा। यह बंद राजस्थान कृषि उपज मंडी व्यापार संघ के आह्वान पर रखा गया।

मंडी व्यापारियों ने लामबंद होकर निवाई में हुई घटना के विरोध में एकत्रित होकर विरोध जताया। इसमें बीकानेर संभाग की बड़ी मंडियों में से एक सरदारशहर कृषि उपज मंडी समिति के समस्त व्यापारियों ने बड़ा विरोध दर्ज करवाया। व्यापारियों ने राजस्थान में हो रही आपराधिक घटनाओं को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार और मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में सरकार से अनुरोध किया कि अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाए अन्यथा प्रदेश के समस्त व्यापार संघ और व्यापार मंडल के प्रतिनिधि एकजुट होकर बड़ा आंदोलन करेंगे। समस्त मंडियों के नजदीक पुलिस चौकी स्थापित की जाए और मंडियों के अंदर बैंक की शाखा खुलवाने की भी मांग की है।

मंडी व्यापार संघ के मंत्री सुखवीर पारीक ने कहा कि इस पर जल्दी कार्रवाई नहीं हुई तो भविष्य में बड़े आंदोलन भी हो सकते हैं जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन और सरकार की होगी। ज्ञापन देने वालों में शिवरतन सर्राफ, पूर्व कृषि मंडी चेयरमैन इंद्राज सारण, मूलाराम जाखड़, चिरंजीलाल कस्बा, अमरचंद सिद्ध, मांगीलाल सारण, श्यामलाल तावणीयां, भागीरथ डूडी, किशन सिद्ध, राजू सारण, बनवारी पारीक, सुनील सेठिया, प्रभुराम सेवदा, रूगाराम खीचड़, हंसराज जाखड़, रजीराम सारण, मनजीत सिंह, प्रयाग पारीक, मेघराज हुड्डा, सांवरमल पारीक सहित अनेक व्यापारी थे। उल्लेखनीय है कि निवाई में तीन शातिर बदमाशों ने कृषि मंडी के एक व्यापारी की गोली मारकर हत्या कर दी और करीब 30 लाख रुपए की नगदी लूटकर फरार हो गए थे।

(रिपोर्ट: हनुमान वर्मा)

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *