भोजन कर हुए संतुष्ट: भरतपुर कलेक्टर ने इंदिरा रसोई में खाया खाना, बोले- भोजन पौष्टिक और स्वादिष्ट


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरतपुर14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भरतपुर। जिला कलेक्टर नथमल डिडेल (दायें) और आयुक्त नगर निगम डॉ. राजेश गोयल इंद्रा रसोई में भोजन करते हुए।

  • भरतपुर में 11 इंदिरा रसोई संचालित हैं

जिला कलेक्टर नथमल डिडेल ने शनिवार को आयुक्त नगर निगम डॉ. राजेश गोयल के साथ अचानक आरबीएम अस्पताल में संचालित इंदिरा रसोई का निरीक्षण किया। इस दौरान दोनों अधिकारियों ने भोजन किया और भोजन को स्वादिष्ट और पौष्टिक बताया।

साथ ही रसोई का अधिकाधिक प्रचार करने को कहा, ताकि रोगी और उनके परिजन रियायती दर पर भोजन कर सकें। इसके अलावा सफाई पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा अगस्त में गरीब और बेसहारा लोगों के लिए इंद्रा रसोई योजना चलाई जा रही है।

इसके तहत भरतपुर जिले में 11 इंदिरा रसोई संचालित हैं। इनमें 5 रसोई भरतपुर नगर निगम क्षेत्र में संचालित हैं। जिला कलेक्टर ने कहा कि इंदिरा रसोई में अच्छी गुणवत्ता का खाना मिल रहा है। उन्होंने भोजन कर रहे अन्य लोगों से भी खाने की क्वालिटी को लेकर पूछताछ की।

जिला कलेक्टर ने कहा कि इस योजना के जरिए राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि राज्य में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहे। इस योजना में 8 रुपये में लोगों को भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसके अलावा कोई भी भामाशाह किसी भी अवसर पर इंदिरा रसोई में मिलने वाले खाने को अपनी तरफ से भी दे सकता है जिसके तहत आने वाले लोगों को निशुल्क भोजन उपलब्ध करवाया जाता है। नगर निगम में चलने वाली इंदिरा रसोई में सुबह शाम 300-300 थाली और तहसीलों में 150-150 थाली लोगों को उपलब्ध करवाई जाती है।

(रिपोर्ट: प्रमोद कल्याण)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *