बेमौसम बारिश ने बढ़ाई किसानों की चिंता: बारिश और ओले गिरने से खड़ी फसल को नुकसान, सरकार के आदेश पर खेतों का सर्वे शुरू


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • The Unseasonal Rains Increased The Concern Of The Farmers, Damage To Standing Crops, Farmers Were Killed More In Vegetables.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अलवर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

लक्ष्मणगढ़ और बड़ौदामेव में 1 इंच तक ओलों की चादर बिछ गई थी। कठूमर मालाखेड़ा क्षेत्र में छोटे आकार के ओले गिरे थे।

अलवर में 2 दिन पहले हुई बारिश और ओलावृष्टि से जिले के किसानों को भारी नुकसान हुआ है। यहां ओलों ने खेतों में खड़ी फसल नष्ट कर दी है। प्रदेश सरकार के आदेश के बाद नुकसान के आंकलन के लिए सर्वे शुरू किया गया है। दरअसल, ​​​​​​​लक्ष्मणगढ़ और बड़ौदामेव में 1 इंच तक ओलों की चादर बिछ गई थी। कठूमर मालाखेड़ा क्षेत्र में छोटे आकार के ओले गिरे थे।

कृषि विभाग के अधिकारियों ने कहा कि रबी की फसलों के लिए यह बारिश लाभदायक है, लेकिन ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हो सकता है। अक्टूबर और नवंबर में रबी की फसल की बुवाई होती है। इस समय गेहूं सरसों चना और जो आदि की फसल की बुआई की जाती है।

ओलावृष्टि से बैंगन, टमाटर सहित अन्य सब्जियों की फसल भी खराब हुई है। टपूकड़ा में 4 बादलपुर बानसूर गोविंदगढ़ व कोटकासिम में 33 मिलीमीटर बारिश हुई इसके अलावा लक्ष्मणगढ़ किशनगढ़ बास में कठूमर में दो-दो मिलीमीटर बारिश हुई राजगढ़ नीमराणा मालाखेड़ा में 1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *