बालाकोट एयर स्ट्राइक के दो वर्ष: बालाकोट में एयरस्ट्राइक करने वाले पायलट्स ने एक बार फिर दिखाया अपना जलवा, ग्वालियर से उड़ान भर पोकरण में बरसाए बम


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जोधपुर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पोकरण की चांदण फायरिंग रेंज मिराज की बमबारी से गूंज उठी।

  • एक बार फिर मिराज फाइटर जेट ने दिखाई अपनी ताकत

पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक करने को यादगार बनाए रखने के लिए इंडियन एयर फोर्स ने शनिवार को एक बार फिर लंबी दूरी तय कर लक्ष्य पर प्रहार कर अपनी क्षमता दर्शा दी। एयर फोर्स के पांच मिराज-2000 फाइटर जेट्स ने ग्वालियर एयर बेस से उड़ान भर पोकरण की चांदण फायरिंग रेंज में बम बरसाए। इस प्रदर्शन में बलाकट पर बम बरसाने वाले मिराज फाइटर जेट ही उपयोग में लिए गए। साथ ही उन्हीं पायलट्स ने उड़ान भरी जिन्होंने बालाकोट पर बम बरसाए थे।

इस अवसर पर एयर चीफ आरकेएस भदौरिया ने भी मिराज से उड़ान भरी। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बम बरसाने वाले मिराज विमानों में वे शामिल थे या नहीं।

इस कारण क्या प्रदर्शन

एयरफोर्स बालाकोट एयर स्ट्राइक को यादगार बनाए रखने के लिए कुछ अलग हट कर करना चाहती थी। ऐसे में बालाकोट के समान ही लंबी दूरी तय कर एयर स्ट्राइक कर अपनी ताकत प्रदर्शित करने का फैसला किया गया। ग्वालियर से पोकरण की सड़क मार्ग से दूरी 812 किलोमीटर है। जबकि एयर डिस्टेंस कम होकर करीब सवा छह सौ किलोमीटर रहती है। बालाकोट में भी इतनी ही दूरी तय कर भारतीय फाइटर्स ने बम बरसाए थे। इस कारण ग्वालियर का चयन किया गया। चांदण में एयरफोर्स की फायरिंग रेंज है। यहां पर छह लक्ष्य तैयार किए गए। एयरफोर्स के फाइटर्स ने शनिवार को इनमें से पांच पर बम बरसा इन्हें नष्ट कर दिया। सारे निशाने एकदम सटीक रहे।

उल्लेखनीय है कि भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी 2019 को नियंत्रण रेखा के पार जाकर बालाकोट में आतंकवादी ठिकानों को नष्ट कर दिया था। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को आतंकवादियों के हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसके जवाब में यह कार्रवाई की गई थी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *