बजट पर प्रति​क्रिया: बजट को लेकर सीकर में लोगों ने जताई प्रतिक्रिया, सीए ने बोला मिली राहत तो महिलाएं बोली महंगाई कम नहीं


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीकर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अस्पताल में 30 आईसीयू बेड और 300 और बेड

मुख्यमंत्री अशोक​ गहलोत के बजट पेश करते ही प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है। बजट को लेकर अलग-अलग वर्गों से अलग-अलग प्रतिक्रिया मिली है। सीए जहां बजट में राहत की बात कह रहा है वहीं महिलाएं घर के बजट को संतुलित भी नहीं कर पा रही है। उनका कहना है कि मंहगाई का हल्ला तो मचाया पर रोकने के लिए कुछ नहीं किया।

चार्टर्ड एकाउंट्स रामवतार जोशी ने बताया कि ब्याज और लेट फीस से संबंधित मामलों को एमनेस्टी स्कीम लाकर राहत दी है। में शामिल कर लिया है। इसकी पिछले कई सालों से मांग की जा रही थी। इबे बिल की लिमिट 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख तक की है जो भी राहत देगा।

रामनिवास गुर्जर

रामनिवास गुर्जर

वहीं यूथ में रामनिवास गुर्जर ने बताया कि सीकर शहर में दो जगहों पर पुलिया की दरकार थी। न स्थानीय प्रशासन ने इस मर्ज को दूर करने की कोशिश की, न राज्य सरकार ने। वैसे दांतारामगढ़ में गर्ल्स कॉलेज खोलना, स्कूलों में बच्चों को डीजिटल की तरफ जोड़ने अच्छा कदम कहा जा सकता है। बेरोजगारी दूर करने को लेकर कोई ठोस योजना नहीं है। पहले ही बेरोजगारी भत्ता नहीं मिल रहा था अब उसकी संख्या और बढ़ा दी है।

यशस्वी राठौड़

यशस्वी राठौड़

युवक यशस्वी राठौड़ का कहना है कि बजट से निराशा हाथ लगी है। सरकारें वादे करती है, लेकिन उसे पूरा करने का कोई प्रयास नहीं करती। सरकार को बड़ी कंपनियों से मिलकर सीकर में उद्योग धंधे लाने चाहिए, जिससे रोजगार के अवसर पैदा हो। डिग्री लेने के बाद भी युवा बेरोजगारों की भीड़ में शामिल हो रहा है। इसकी सबसे अधिक जरूरत थी, लेकिन वह पूरी नहीं हुई।

महेंद्र डोरवाल

महेंद्र डोरवाल

वहीं राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के जिलाध्यक्ष महेंद्र डोरवाल ने कहा कि बजट से निराशा हाथ लगी है। मंहगाई, बेरोजगारी से राहत मिलेगी, लेकिन बजट में ऐसा कुछ नहीं दिखा। किसानों को कर्जमाफी का आज भी इंतजार है, लेकिन वो भी पूरा नहीं किेया। नवलगढ़ रोड को फोरलेन की भी उम्मीद इस बार भी पूरी नहीं हुई।

नीलम मिश्रा

नीलम मिश्रा

वहीं महिला नीलम मिश्रा का कहना है कि बजट दिशाहीन है। मध्यम वर्ग को झूठे ख्वाब दिखाए, सत्ता में आने के बाद भी केवल लालीपॉप थमा रहे है। महिलाओं के लिए इसमें कोई प्रावधान नहीं किया है। जबकि आधी आबादी के वोट से ही चुनाव जीतते है। पेट्रोल और डीजल पर वैट कम नहीं करके महंगाई कम करने का कोई उपाय नहीं है।

यह है बजट की प्रमुख घोषणा

बजट भाषण में सीकर में अरबन हाट में बकाया काम को पूरा करने के लिए घोषणा की है। जिससे वह संचालित हो सके। इसके साथ ही एसके अस्पताल फिलहाल 300 बेड का है। इसमें 300 बेड और बढ़ाया गया है।

वहीं दांतारामगढ़ में कन्या कॉलेज और सीकर में आयुर्वेद कॉलेज भी खोल जाएंगे।

पर्यटक केंद्र सीकर को शेखावाटी पर्यटन सर्किट के तौर पर विकसित किया जाएगा

खाटू श्याम जी मंदिर को धार्मिक और पर्यटक के हिसाब से विकसित किया जाएगा

जीण माता मंदिर और हर्षनाथ को पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उच्च स्तरीय बनाया जाएगा

7 हजार 700 करोड़ की लागत से कुम्भाराम लिफ्ट परियोजना का पानी आएगा दांतारामगढ़ में भी

प्रदेश में एक लाख किसानों को मिलेंगे बिजली कनेक्शन, 50 हजार सोलर पम्प और 50 हजार सामान्य कनेक्शन

102 एंबुलेंस सेवा शुरू की जाएगी,पशु चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए सेवा शुरू की जाएगी

सैकण्डरी, सीनियर सेकंडरी,KGBV स्कूल में स्मार्ट टीवी व सेट टॉप बॉक्स लगेंगे

नीमकाथाना में अपर न्यायालय खुलेगा

श्रीमाधोपुर में अतिरिक्त सिविल न्यायिक व न्यायिक मजिस्ट्रेट कोर्ट खुलेगा

नीमकाथाना में एडीएम कार्यालय खुलेगा

रींगस में नई उपतहसील खुलेगी एसके अस्पताल में 90 करोड़ से 300 बेड का नया भवन बनेगा

सीकर में नर्सिंग कॉलेज खोला जाएगा

दांतारामगढ़ में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खुलेगा

रानोली में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खोला जाएगा

फतेहपुर पीएससी को उपजिला अस्पताल में क्रमोन्नत होगा

नीमकाथाना में पीएचसी को जिला अस्पताल में क्रमोन्नत होगा

सीकर जिला अस्पताल में 30 आईसीयू बेड होंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *