नींद के फायदे-नुकसान: दोपहर में सोने से कब्ज, गैस और अपच का खतरा, जानें दिन में किन-किन लोगों को सोना चाहिए


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली17 दिन पहलेलेखक: गौरव पांडेय

  • कॉपी लिंक

ठंड का मौसम है और दोपहर में खाने के बाद नींद भी खूब आती है। लेकिन दोपहर की नींद सेहत के लिए ठीक नहीं होती। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, सर्दियों में दिन में सोने से आपको पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे- कब्ज, गैस, अपच आदि हो सकती हैं। इसके अलावा मोटापे और डायबिटीज का भी खतरा होता है।

आयुर्वेद में भी दिन में न सोने की हिदायत दी गई है, खासकर ठंड में। इस समय दिन में सोने से कफ और पित्त का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे हमें कई तरह की बीमारी हो सकती है। हालांकि, आयुर्वेद में कुछ लोगों को दिन में सोने की छूट भी दी गई है। खासकर स्टूडेंट्स, बुजुर्ग, मजदूर और जिन्हें अपना वजन बढ़ाना है। ऐसे लोग दिन में सो सकते हैं, लेकिन खाना खाने के तुरंत बाद कभी न सोएं।

टाइम की कमी है तो पावर नैप ले सकते हैं

रायपुर में डाइटीशियन और फिटनेस एक्सपर्ट डॉ. निधि पांडेय कहती हैं कि कई लोगों को नींद आने और भूख लगने में कन्फ्यूजन होती है। दरअसल, ऐसे लोग नींद आने पर कुछ खाकर उसे भगाने की कोशिश करते हैं और भूख लगने पर सोने का प्रयास करते हैं ताकि भूख शांत हो जाए। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए, यदि टाइम की कमी है, तो पावर नैप ले सकते हैं।

एम्स दिल्ली की डॉ. उमा कुमार कहती हैं कि मेरे लिहाज से दोपहर में पावर नैप लेना ठीक है, लेकिन इससे रात में नींद न आने की समस्या भी पैदा हो सकती है। हालांकि दोपहर में सोने से रिफ्रेशमेंट आती है।

सरकेडियन रिदम बताता है कि कब सोना है और कब उठना है

स्टडी के मुताबिक, करीब 50% लोगों को दोपहर में सोने से ज्यादा फायदा नहीं होता है। ऐसे लोगों में सरकेडियन रिदम होता है। सरकेडियन रिदम शरीर को बताती है कि कब सोना है, कब उठना है। अगर आपको दिन में नींद नहीं आती है तो इससे ये पता चलता है कि आपके शरीर को आराम की जरूरत नहीं है।

स्वस्थ लोग गर्मी के दिनों में दोपहर में सो सकते हैं

स्वस्थ लोग केवल गर्मी के मौसम में दोपहर में झपकी ले सकते हैं। दरअसल, गर्मी में रात छोटी होती है, इसलिए कई बार नींद ठीक से पूरी नहीं हो पाती। इसके अलावा गर्मी के दिनों में शरीर में रूखापन और थकान ज्यादा महसूस होती है, जो दिन में सोने से कम होती है।

वहीं, ठंड में दिन छोटा होता है, इसलिए हमें दोपहर में नहीं सोना चाहिए। इसके चलते आप वर्कआउट और एक्सरसाइज नहीं कर पाएंगे। इसके अलावा जो लोग सुबह जल्दी अपनी दिनचर्या शुरू कर लेते हैं, ऐसे लोग दोपहर में थोड़ा सो सकते हैं, ताकि तरोताजा महसूस करते रहें।

दिन में सोने के फायदे किन लोगों को है?

  • स्टूडेंट्स

क्यों- छात्र लगातार पढ़ाई-लिखाई करने से थक जाते हैं। दोपहर में कुछ देर की झपकी उनके ब्रेन को आराम देने में मदद कर सकती है।

क्यों- दिन में शरीर को आराम देने के लिए कुछ देर के लिए सो सकते हैं। इससे उन्हें गैस और अपच जैसी समस्या से राहत मिल सकती है।

क्यों- दोपहर की नींद ऐसे लोगों को दर्द भूलने में मदद कर सकती है। जिन्हें ज्यादा गुस्सा आता है, उन्हें दिमाग शांत रखने में मदद मिल सकती है।

क्यों- ऐसे लोग जो कड़ी मेहनत और भारी काम करते हैं, वे भी सो सकते हैं। इससे उनकी थकान कम होगी और शरीर दोबारा अच्छे से सक्रिय हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *