जज और वकीलों में टकराव: सीजेएम के व्यवहार से नाराज वकील करेंगे कोर्ट के काम का बहिष्कार, तबादला होने तक नहीं जाएंगे उनकी कोर्ट में, सीजेएम बोले, मुझे जानकारी नहीं


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीकर5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सीकर बार एसोसिएशन के पदाधिकारी फाइल फोटो

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट यानि सीजेएम के व्यवहार को लेकर वकीलों की जमात उखड़ गई। नाराज वकीलों ने बार की आननफानन में बैठक बुलाकर तय किया की एक दिन का वकील कोर्ट का बहिष्कार करेंगे। इसके बाद मामले की जानकारी चीफ जस्टिस को भेजी जाएगी। सीजेएम का तबादला होने तक उनकी कोर्ट में वकील पैरवी के लिए नहीं जाएंगे। इस मसले पर सीजेएम सुमरथलाल मीणा से बात की तो उन्होंने बताया कि उन्हें इस तरह के निर्णय की जानकारी नहीं है। कोर्ट में भी ऐसी कोई बात नहीं हुई थी।

बार एसोसिएशन अध्यक्ष रणधीर सिंह काजला ने बताया कि वकील पिछले कई दिनों से सीजेएम सुमरथलाल मीणा के व्यवहार को लेकर शिकायत करते रहे, लेकिन तालमेल बिठाने को लेकर टालमटोल होती रही। अब तो सीजेएम सीनियर वकीलों से भी दुर्व्यवहार करने लगे है।

सचिव हरीश मिश्रा का कहना है कि सभी वकीलों ने मिलकर निर्णय लिया है कि कल सीकर शहर की किसी भी कोर्ट में काम नहीं होगा। ये हमारा सांकेतिक प्रदर्शन है। इसके बाद हम मुख्य न्यायाधीश को लिखकर शिकायत करेंगे। जब तक तबादला नहीं हो जाएगा, उनकी कोर्ट का वकील बहिष्कार रखेंगे।

बता दे कि रोजाना करीब तीन सौ केस की फाइलें सीकर कोर्ट में चलती है इसमें अकेले सीजेएम कोर्ट में करीब 50 फाइलें होती है। वकीलों के बहिष्कार के बाद उन केसों में सुनवाई को लेकर परेशानी हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *