घूसखोर दलाल पकड़ा: हाउसिंग बोर्ड में नाम ट्रांसफर के लिए 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते जयपुर ACB ने दलाल को दबोचा


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर13 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

दलाल ने ये रिश्वत मकान के नाम ट्रांसफर करवाने की एवज में मांगी थी।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) जयपुर की टीम ने आज राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के प्रताप नगर स्थित कार्यालय पर एक दलाल को 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा हैं। दलाल ने ये रिश्वत मकान के नाम ट्रांसफर करवाने की एवज में मांगी थी। दलाल की हाउसिंग बोर्ड कार्यालय के पास ही कल्याण कम्प्यूटर्स के नाम से दुकान भी हैं, जिसमें टाइपिंग, फोटोकॉपी सहित अन्य कार्य करता हैं।

ACB के पुलिस निरीक्षक भंवर सिंह ने बताया कि मक्खनलाल गुप्त ने अपनी पत्नी के नाम से प्रताप नगर सेक्टर 34 में एक एचआईजी का मकान खरीदा था। इस मकान का नाम हस्तांतरण करवाने के लिए वह कई दिनों से हाउसिंग बोर्ड के चक्कर काट रहा था। इस दौरान काम नहीं होने पर गुप्ता से दलाल केदारप्रसाद शर्मा ने संपर्क किया और उससे 7 हजार रुपए में काम करवाने की बात कही। इसकी सूचना गुप्ता ने एसीबी में भी दी। वहीं तय डील के तहत 5 हजार रुपए की रकम के लिए सोमवार को बुलाया। इसके तहत गुप्ता ने दलाल को राशि देकर इशारा कर दिया। एसीबी ने पहुंचकर दलाल की दुकान के दराज से रिश्वत की राशि 5 हजार रुपए बरामद की।

पिता हैं हाउसिंग बोर्ड में कैशियर

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जिस दलाल केदार को एसीबी ने पकड़ा हैं, उसके पिता मोहनलाल शर्मा हाउसिंग बोर्ड कार्यालय में ही कैशियर के पद पर काम करते हैं। अब एसीबी इस मामले में पूछताछ में जुटी हैं कि दलाल ने वह राशि हाउसिंग बोर्ड कार्यालय में किस-किस कर्मचारियों को देने के लिए मांगी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *