ग्रामीणों में रोष: सरकारी चारागाह भूमि में कच्चे मकान व बाड़े बनाकर कर लिया अतिक्रमण


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अजमेर15 दिन पहले

ग्रामीण अजमेर पहुंचे और जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की

  • सरवाड़ तहसील से सापुन्दा लल्लाई के लोगों ने कलक्टर से की कार्रवाई की मांग

सरवाड़ तहसील स्थित सापुन्दा लल्लाई ग्राम की सरकारी चरागाह भूमि पर कुछ लोगों ने अतिक्रमण कर कच्चे मकान व बाडे बना लिए। इस सम्बन्ध में ग्रामीणों ने शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में ग्रामीणों में रोष है। सोमवार को ग्रामीण अजमेर पहुंचे और जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की।

केकडी प्रधान होनहारसिंह, सरपंच प्रतिनिधि बलवीरसिंह राठौड, मनोज धाकड आदि ने कलक्टर को सौंपे ज्ञापन में बताया कि सरवाड तहसील के ग्राम पंचायत लल्लाई के ग्राम सापुन्दा में 850 बीघा जमीन सरकारी चरागाह भूमि है, जहां जानवर चरते थे। लेकिन कुछ लोगों ने वहां पर अतिक्रमण कर कच्चे मकान व बाडे बना लिए, जिससे जानवरों के चरने का संकट हो गया है। साथ ही अतिक्रमण से रोकने पर छेडछाड व छुआ छूत के मुकदमे दर्ज कराकर धमकाया जाता है। जिससे ग्रामीण परेशान है।

स्थानीय स्तर पर ग्रामीणों ने इसको लेकर कितनी ही बार शिकायत भी की लेकिन स्थानीय प्रशासन की ओर से कोई संतोषजनक कार्रवाई नहीं की गई। इससे ग्रामीणों में रोष है। अब ग्रामीणों ने अजमेर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर इस मामले में प्रभावी कार्रवाई की मांग की है। अगर कार्रवाई नहीं होती है तो ग्रामीण उग्र आन्दोलन को मजबूर होंगे, जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *