गोवंश का निवाला ले गए चोर: अलवर में गोशाला के दान पात्र में रखा रुपए उड़ा ले गए चोर, इससे गायों का चारा खरीदा जाना था


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अलवर15 दिन पहले

इसी दान पत्र को तोड़कर चोर इसमें रखे रुपए ले गए। बताया जा रहा है कि दान पत्र में 50 हजार से एक लाख रुपए थे।

  • शहर में स्टेशन रोड पर सार्वजनिक गोशाला में हुई चोरी

शहर में रविवार देर रात चोर स्टेशन रोड स्थित सार्वजनिक गोशाला का दानपत्र तोड़कर करीब एक लाख रुपए की चोरी कर ले गए। गोशाला संचालक और गोभक्तों ने कहा कि यह चोरी नहीं बल्कि गोवंश का निवाला छीनने जैसा कृत्य है। पुलिस को ऐसे चोरों को जल्दी पकड़कर कड़ी सजा देने चाहिए।

गोशाला के प्रबंधक अजय अग्रवाल ने बताया कि कोरोना महामारी के दौर में गोवंश के चारे का इंतजाम बड़ी मुश्किलों से हुआ है। बहुत सारे भक्तों ने दान भी किया। इस दौरान हजारों लोगों ने सीधे दान पात्र में राशि डालकर गुप्त दान किया। गोशाला कमेटी जल्दी ही उस रुपए को काम लेने वाली थी।

अग्रवाल ने बताया कि रविवर रात चोर दीवार कूदकर गोशाला के अंदर आए। मुख्य गेट से अंदर कक्ष के बाहर दान पात्र को उठाकर बाहर की तरफ ले गए। बाहर ही दान पात्र को बड़े पत्थर व लोहे के औजारों से तोड़ कर राशि ले गए और दान पात्र को वहीं पटक गए। यही नहीं दान पात्र को तोड़ने के काम लिए गए उपकरण भी वहीं छोड़ गए। सुबह चोरी होने का पता चला।

सार्वजनिक गोशाला। दान पात्र से इन गांवश का चारा खरीदा जाना था।

पुलिस को शिकायत
इसके बाद गोशाला कमेटी के पदाधिकारियों ने अलवर कोतवाली पुलिस को शिकायत दी है। इसमें बताया कि गोशाला के दान पत्र में 50 हजार से एक लाख रुपए थे। दान पात्र की पूरी राशि का किसी को पता नहीं है। मामले को लेकर कोतवाल का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर जल्दी चोरों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *