गुड इनिशिएटिव: महिला दिवस के मौके पर कुलपति मेडल हासिल करने वाली सुमन स्वामी बनी एक दिन की वीसी


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीकानेर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

1 साल के बच्चे को गोद में लेकर एक दिन की मानद कुलपति के तौर पर काम करती सुमन

  • एक साल के बेेटे को गोद में लेकर ग्रहण किया एक दिन की वीसी का चार्ज, उसी दिन शाम पांच बजे समाप्त भी हो गया कार्यकाल

महिला दिवस के अवसर पर राज्य में पहली बार किसी विश्वविद्यालय में टॉपर स्टूडेंट को एक दिन का वीसी बनाया गया। महाराजा गंगासिंह विवि की मानद कुलपति सुमन स्वामी ने एक साल के बेटे को गोद में लेकर कार्यभार ग्रहण किया। इसके साथ ही उन्होंने कुलसचिव संजय धवन को पत्र लिखकर कहा कि छात्रों की समस्याओं का शीघ्र समाधान करें। सुमन स्वामी से छात्रों का एक प्रतिनिधिमंडल मिलने पहुंचा और विवि से संबंधित अव्यवस्थाओं का ज्ञापन दिया।

कुलपति स्वामी ने छात्रों को आश्वस्त किया कि उनकी हर समस्या का समाधान होगा। छात्रों के ज्ञापन को कुलसचिव के लिए मार्क किया। इसके बाद वे प्रत्येक कक्षा में पहुंची। वहां चल रही क्लास के बीच छात्रों से कहा, आज मैं इसलिए एक दिन की कुलपति हूं क्योंकि मैंने पढ़ाई की, मैडल हासिल किया। आप भी इतनी मेहनत करो कि अगला मौका आप में से किसी को मिले। कोरोना वैक्सीन का उदाहरण देते हुए सुमन ने कहा कि इस शोध से पूरी दुनिया को लाभ हुअा। नॉन टीचिंग कर्मचारियों की भी बात सुनी। परीक्षा नियंत्रक, अकाउंट विभाग, प्रशासनिक विभाग समेत विवि के पूरे कैंपस की विजिट की। शाम पांच बजे उनका एक दिन का कार्यकाल समाप्त हो गया।

एक दिन में क्लियर विजन
सुमन स्वामी ने बतौर एक दिन की कुलपति के रूप में अपना विजन स्पष्ट किया और स्टाफ से कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की छात्राओं को किसी भी सूरत में कॉलेज तक पहुंचने में मदद करें। घर से कॉलेज तक आने-जाने का इंतजाम विवि करे ताकि उनके साथ रास्ते में कोई गलत व्यवहार ना हो। विवि में सिर्फ परीक्षा ही नहीं, बल्कि शोध कार्यों को बढ़ावा मिलना चाहिए।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *