खुले खेतों के रास्ते, कम हुई गांवों की दूरियां: जिले में रास्ता खोलो अभियान जारी, 19 मामले हल कर बंद रास्ते खोले


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नागौर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गांव गोदा खुर्द रास्ता खुलवाने आई जिला प्रशासन की टीम।

नागौर जिले में जिला कलेक्टर की पहल पर चलाया जा रहा रास्ता खोला अभियान जारी है। नागौर के गांव गोदा खुर्द के खसरा नं. 352 का गैर मुमकिन रास्ता राजूवास की सरहद से रामनिवास तक ढाणी तक शुक्रवार शाम को खुलवाया गया।

रास्ता खोलो अभियान के तहत तहसीलदार सुभाष चंद्र चौधरी और उनकी टीम द्वारा ग्रामीणों को समझाकर एक किलोमीटर 150 मीटर लंबा रास्ता खुलवाया गया। उक्त रास्ते के खुलने से पचास से अधिक किसानों के परिवार लाभान्वित हुए हैं, जिन्हें अपने खेत-ढाणी तक लंबी दूरी तय करके नहीं जाना पड़ेगा।

ठीक इसी प्रकार जिले की नावां तहसील के गांव कंचनपुरा में तहसीलदार गुरूप्रसाद तंवर और उनकी राजस्व टीम ने ग्रामीणों से समझाइश कर यहां खेतों के बीच से जाने वाले करीब एक किलोमीटर लंबा रास्ता खुलवाया। उक्त रास्ते के खुलने से पचास से अधिक किसान परिवार लाभान्वित हुए हैं।

यहां बिटिया गौरव पट्टिका भी लगाई गई। वहीं तहसीलदार गुरु प्रसाद और उनकी राजस्व टीम ने गांव देद्या का बास की रोही से भैंसलाना गांव की सीमा तक दो किलोमीटर से अधिक लंबा रास्ता, जो कि संकरा था, को चौड़ा करवाया तथा बीच-बीच में हो रखे अस्थाई अतिक्रमण को भी हटवाया।

जिला कलक्टर डा. जितेन्द्र कुमार सोनी के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे रास्ता खोलो अभियान के तहत शुक्रवार को जिले भर में 19 रास्ते संबंधी प्रकरणों का निस्तारण देकर सैकड़ों किसान परिवारों को लाभान्वित किया गया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *