खाटू मेला: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से प्रतिदिन 35 हजार भक्तों को ही दर्शन


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीकर/खाटूश्यामजी4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस-प्रशासन व मंदिर कमेटी ने मेले की तैयारियों के लिए बैठक की।

  • 17 से 26 मार्च तक भरेगा बाबा श्याम का लक्खी मेला
  • निशान रहेंगे बंद, रथयात्रा मंदिर परिसर में ही निकलेगी
  • कोविड निगेटिव रिपोर्ट जांच के लिए 100 से ज्यादा काउंटर
  • 10 दिन के मेले में इस साल 3.5 लाख श्रद्धालुओं को ही दर्शन
  • दर्शन के लिए 72 घंटे पहले की कोविड निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

बाबा श्याम का वार्षिक लक्खी फाल्गुन मेला 17 से 26 मार्च तक भरेगा। इस बार मेले में कोविड गाइड लाइन के चलते पाबंदियां रहेगी। मेले की तैयारियों को लेकर मंगलवार को एडीएम दारासिंह मीणा की अध्यक्षता में मेला मजिस्ट्रेट कार्यालय में बैठक हुई।

रींगस से इस बार निशान बंद रहेंगे। श्याम भक्त सिर्फ पदयात्री के रूप में ही खाटूश्यामजी आ सकेंगे। मेले में कोविड टेस्ट अनिवार्य रखा गया है। इसके चलते 72 घंटे तक की जांच करवाकर निगेटिव रिपोर्ट से ही दर्शनार्थ पहुंच सकेंगे।

मेले में कोविड टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट की जांच करने के लिए 100 से 125 काउंटर लगाए जाएंगे। मेले में आने वाली झांकी, भंडारे बंद रहेंगे तथा धर्मशाला में एक व्यक्ति सिर्फ तीन दिन ही रुक सकेंगे। इसके अलावा एकादशी को निकलने वाली बाबा श्याम की रथयात्रा सिर्फ मंदिर परिसर में ही भ्रमण करेगी।

मेले के दौरान तीन सौ कैमरे रखेंगे भक्तों पर नजर

मेले के दौरान तीन सौ सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इस बार मेले में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से दर्शन होंगे। मेले में प्रतिदिन की दर्शन संख्या 35 हजार रखी जा रही है तथा व्यवस्था को देखते हुए इस संख्या को बढ़ाया जाएगा। मेले में पार्किंग व्यवस्था निशुल्क रहेगी तथा धर्मशाला से सफाई शुल्क नगरपालिका द्वारा लिया जाएगा। मेले में झूले, अस्थाई दुकानें भी नहीं लगेगी। बैठक के दौरान बताया गया कि लोग आधारकार्ड में एड्रेस बदलकर खाटूश्यामजी का करवा रहे हैं।

इसके चलते एक यूनिक आईडी प्रोग्रामर टीम लगाई जाएगी। मेले में स्थानीय ग्रामीण आधार कार्ड से दर्शन कर सकेंगे, लेकिन उनके साथ रिश्तेदार, परिचितों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से ही दर्शन होंगे। मेले के दौरान दिशा निर्देश की बुकलेट बनाई जाएगी। मेले में धर्मशाला में 10 प्रतिशत कमरे प्रशासन के लिए आरक्षित रहेंगे। बैठक में उपखंड अधिकारी दांतारामगढ़ अशोक रणवां, उपखंड अधिकारी श्रीमाधोपुर लक्ष्मीकांत गुप्ता, ईओ कमलेश मीणा, ईओ रींगस ममता चौधरी, राकेश लाटा, प्रताप सिंह चौहान सहित अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *