किसान खेती के काम को जल्दी पूरा करें: पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, 23 तक मेघ गर्जन के साथ आंधी/बारिश की संभावना, 30-35 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चल सकती है हवा


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरतपुर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हाल ही आई बारिश-ओलों से बयाना में खड़ी फसल खराब हो गई थी।

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय हो जाने से भरतपुर और आसपास के इलाकों में 21 से 23 तक मौसम नरम रहेगा। मेघ गर्जन के साथ आंधी/बारिश की संभावना है। हवा की रफ्तार 30-35 किलोमीटर प्रतिघंटे से चल सकती है। इसलिए किसान खेती के काम जल्द पूरा करें अन्यथा नुकसान हो सकता है।

मौसम विभाग जयपुर ने इसकी चेतावनी जारी की है। मौसम विशेषज्ञ आरके सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से पश्चिमी राजस्थान के ऊपर परिसंचरण बन गया है, जो हरियाणा की ओर अग्रसर होगा। इस कारण 24 मार्च तक मौसम नरम रहेगा।

इसके अलावा 22-23 मार्च को अरब सागर से नमी मिलने की पूरी संभावना है। इससे 21 से 23 तक भरतपुर संभाग सहित आसपास के इलाके में मेघ गर्जन, अंधड़, बारिश, वज्रपात, ओले गिरने की संभावनाएं बन सकती हैं। इधर, शनिवार को तापमान स्थिर रहा। दिन का तापमान 35 डिग्री और रात का तापमान 18.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

इधर, बार-बार बदलते मौसम के रवैये से किसान चिंतित हैं क्योंकि सरसों और गेहूं की फसल पकी खड़ी है। फसल की कटाई का काम चल रहा है। फसल खलिहानों में पड़ी है। संयुक्त कृषि निदेशक का कहना है किसानों को चाहिए कि जो फसल पक चुकी है उसकी जल्द कटाई करें तथा फसल को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाएं क्योंकि गेहूं की फसल खेतों में बिछने से दाने की चमक फीकी हो सकती है।

इन कारणों से बदलेगा मौसम

  • 1. पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। साथ ही पश्चिमी राजस्थान में चक्रवात बना हुआ है।
  • 2. दक्षिणी पूर्वी राजस्थान, विदर्भ और पूर्वी बांग्लादेश के ऊपर चक्रवाती घेरा बना हुआ है।
  • 3. दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान से पूर्वोत्तर अरब सागर तक पछुवाई हवा के बीच टर्फ लाइन गुजर रही है।
  • 4. परिसंचरण अरब सागर की नमी को आकर्षित कर रहा है। इससे मौसम नरमा सकता है।

(रिपोर्ट: प्रमोद कल्याण)

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *