कांग्रेस की ‘एग्रो-स्प्रीच्युअल पॉलिटक्स’: राहुल गांधी कल से दो दिन राजस्थान दौरे पर, लोकदेवता तेजाजी के मंदिर जाकर जाट और किसान जातियों के वोट बैंक को पक्ष में करने की कवायद


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Rahul Gandhi On A Two day Visit To Rajasthan From Tomorrow, Visiting The Temple Of Lokdevata Tejaji To Exercise The Vote Bank Of Jats And Peasant Castes

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राहुल गांधी कल से दो दिन 4 जिलों में 5 सभाएं, ट्रैक्टर रैली और मंदिर दर्शन करेंगे (फाइल फोटो)

  • दो दिन के दौरे में 4 जिलों में 5 सभाएं, ट्रैक्टर रेली ओर मंदिर दर्शन करेंगे राहुल गांधी
  • टेंपल रन, ट्रैक्टर रैली, किसान सभाओं का सियासी काॅकटेल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कल से दो दिन प्रदेश के सयासी दौरे पर आ रहे हैं। दो दिन में राहुल गांधी चार जिलों में 5 सभाएं और ट्रैक्टर रैली करेंगे और मंदिर दर्शन करेंगे। राहुल गांधी के इस बार के प्रदेश दौरे को राजनीतिक प्रेक्षक “एग्रो-स्प्रीच्युअल पॉलिटक्स” का नाम दे रहे हैं। राहुल गांधी के इस बार के प्रदेश दौरे में मंदिर दौरा है, ट्रैक्टर रैली है और किसान सभाएं हैं। सॉफ्ट हिंदुत्व के मॉडल के तहत ही राहुल गांधी वापस टेंपल रन की तरफ लौटे हैंं। राहुल गांधी का दो दिन का दौरा कई तरह के सियासी समीकरण बनाएगा और बिगाड़ेगा।

राहुल गांधी का कल कल 11.30 बजे राहुल गांधी हनुमानगढ के पीलीबंगा और 3 बजे श्रीगंगानगर के पदमपुर में किसान सभा करेंगे। इसके बाद राहुल गांधी का सूरतगढ में रात्रि विश्राम करने का कार्यक्रम है। राहुल गांधी परसों 13 फरवरी को सुबह अजमेर के किशनगढ़ एयरपोर्ट पहुंचेंगे। किशनगढ में कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी का स्वागत करेंगे। राहुल गांधी किशनगढ के पास लोक देवता वीर तेजाजी के बलिदान स्थल सुरसुरा मंदिर जाएंगे और वहां पूजा अर्चना करेंगे। तेजाजी के मंदिर में पूजा अर्चना के बाद राहुल गांधी वहीं पर सभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद रूपनगढ में ट्रैक्टर रेली में हिस्सा लेंगे और किसानों को संबोधित करेंगे। राहुल गांधी ट्रैक्टर रेली के बाद नागौर के परबतसर और मकरााना में किसान सभाओं को संबोधित करेंगे।

लोकदेवता तेजाजी के मंदिर जाकर जाट-किसान जातियों के वोट बैंक को खुश करने की कवायद

राहुल गांधी का 13 फरवरी का दौरा सबसे ज्यादा चर्चा में है। राहुल गांधी 13 के दौरे की शुरुआत लोकदेवता वीर तेजाजी के बलिदान स्थल सुरसुरा मंदिर जाकर उनकी पूजा अर्चना से कर रहे हैं। सुरसुरा धाम की राजस्थान में राजनीतिक रूप से ताकतवर जाट और कई किसान जातियों की गहरी आस्था है। राहुल गांधी का सुरसुरा मंदिर जाकर पूजा अचर्ना करना इन्हीं जातियों के वोट बेंक को मैसेज देने की कवायद है। जाट और कई किसान जातियां कांग्रेस का बड़ा वोट बैंक रही हैं, किसान जातियों के वोट बैंक में बीजेपी की सेंध लग चुकी है। अब राहुल गांधी के इस दौरे में किसान जातियों को ही खुश करने पर जोर है। राजस्थान में नागौर जाट-किसान राजनीति का सेंटर माना जाता है। बताया जाता है कि इसी वोट बैंक को साधने के लिए राहुल गांधी के दौरे में टेंपल रन, ट्रैक्टर रैली और किसान सभाओं का कॉकटेल किया गया है।

राहुल गांधी के दौरे में सचिन पायलट को मिलने वाली जगह पर भी निगाह

राहुल गांधी के दो दिन के प्रदेश दौरे में सभाओं में सचिन पायलट को कहां जगह मिलती है इससे आने वाले दिनों में प्रदेश की कांग्रेस की अंदरूनी सियासत के समीकरण तय होंगे। सचिन पायलट के भावी सियासत का नरेटिव भी इस दोरे से तय होगा। कांग्रेस के जानकारों का कहना है कि सचिन पायलट को राहुल गांधी के दौरे मेंं साथ रखा जाएगा और इसके जरिए ही कांग्रेस में एकजुटता का मैसेज देने की कोशिश होगी, यह अलग बात है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूव्र डिप्टी सीएम सचिन पायलट के खेमों में खींचतान अब भी जारी है। सचिन पायलट की बगावत और सुलह के बाद राहुल गांधी का यह पहला दौरा है, ऐसे में सचिन पायलट को इस दौरे में मिलने वाले महत्व से ही आगे की सियासत तय होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *