ऑपरेशन क्लीन: सोम नदी पेटे में किया जा रहा था अवैध बजरी खनन, मौके पर पहुंची पुलिस की टीम को देख भागे खनन माफिया


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदयपुर5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बजरी जमीन से खींचने के लिए विशेष पंप का किया जा रहा था उपयोग।

उदयपुर पुलिस ने रविवार को ऑपरेशन क्लीन के तहत बजरी माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया। उदयपुर की स्पेशल पुलिस टीम ने जिले के झल्लारा इलाके में सोम नदी के पेटे में अवैध बजरी खनन के खिलाफ कार्रवाई की। इस दौरान पुलिस की टीम ने 16 डंपर अवैध बजरी के साथ ही अवैध बजरी खनन करने वाली मशीनों को भी जब्त किया है। इस कार्रवाई में पुलिस ने अवैध बजरी खनन करने के मामले में दिग्विजय सिंह राणावत और वर्तमान सरपंच अशोक मीणा के खिलाफ मामला भी दर्ज किया है। जबकि झल्लारा थाना के दो कांस्टेबल की भूमिका संदिग्ध होने पर उन्हें लाइन हाजिर भी किया गया है।

अवैध बजरी को उदयपुर पुलिस ने किया जब्त।

अवैध बजरी को उदयपुर पुलिस ने किया जब्त।

उदयपुर पुलिस अधीक्षक डॉ राजीव पचार ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से जिले में अवैध बजरी खनन की शिकायत मिल रही थी। जिसे रोकने के लिए पुलिस की स्पेशल टीम का गठन किया गया था। इस टीम ने मुखबिर की सूचना पर रविवार को सोम नदी के पेटे में हो रही अवैध बजरी खनन को रुकवाने के साथ ही अवैध खनन करने वाले माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई को अंजाम दिया है।

उदयपुर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बजरी माफिया देर रात बजरी जमीन से पंप के माध्यम से खींचते थे। ताकि किसी को इसकी भनक न लगे। उदयपुर एसपी ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि इसमें स्थानीय जनप्रतिनिधि और पुलिस के कुछ जवानों की भूमिका भी संदिग्ध पाई गई है। जिसकी जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *