इस्लामिक आतंकवाद शब्द को लेकर विवाद: देवनानी बोले; कुछ लोग जयपुर को हैदराबाद बनाना चाहते है, लेकिन हम ऐसा होने नहीं देंगे


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इस्लामिक आतंकवाद पर छपे एक सवाल के जवाब से नाराज होकर दो दिन पहले जयपुर के चौड़ा रास्ता में एक किताब पब्लिश करने वाले प्रकाशक के यहां समुदाय विशेष के लोगों ने हमला कर दिया था।

जयपुर में दो दिन पहले पुस्तक प्रकाशन वाली फर्म के ऑफिस में समुदाय विशेष की तरफ से की गई तोड़फोड़ को भाजपा विधायकों ने आतंकी जैसी घटना बताया है। भाजपा विधायक अशोक लाहोटी और वासुदेव देवनानी ने इस्लामिक आतंकवाद पर चर्चा के लिए राजस्थान विधानसभा में स्थगन प्रस्ताव भी लगाया, जिसे स्पीकर ने खारिज कर दिया। देवनानी ने कहा कि जिस तरह यहां कुछ लोग इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे है वे लोग जयपुर को हैदराबाद बनाने का कुचक्र रच रहे है, लेकिन हम ऐसा होने नहीं देंगे।

विधानसभा के बाहर आज मीडिया से बात करते हुए विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजनीति विज्ञान की किताब में जो प्रश्न पूछा गया वह माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की है। उन्होंने कहा कि आज मैं ये मानता हूं कि हर मुसलमान आतंकवादी नहीं है, लेकिन देश या दुनिया में जितने आतंकवादी पकड़े जाते है उसमें ज्यादातर मुसलमान है। उन्होंने कहा कि किताब प्रकाशक ने जिस तरह अपनी तमाम किताबों को बाजार से वापस ले लिया, लिखित में माफीनामा मांगा उसके बाद भी इस तरह तोड़फोड़ करना तथा जयपुर को हैदराबाद बनाने का एक कुचक्र है। हम जयपुर को हैदराबाद नहीं बनने देंगे।

वहीं दूसरी ओर विधायक लाहोटी ने बताया कि जिस तरह संगठित गिरोह ने पुस्तक प्रकाशन के ऑफिस में संगठित आतंकवादी के तौर पर घटना को अंजाम दिया ये वाकैये में गंभीर विषय है। उन्होंने बताया कि खुद राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की राजनीति विज्ञान की किताब के पेज नंबर 149 व 157 में इस्लामिक आतंकवाद पर प्रश्न पूछा गया है। आज पूरा विश्व मान रहा है कि इस्लामिक आतंकवाद बढ़ा है। श्रीलंका ने भी बुर्के पर बैन कर दिया है, फिर हमारे यहां इस्लामिक आतंकवाद पर चर्चा करने से डर क्यों। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या इस देश में आतंकवाद को कोई संरक्षण दिया जा रहा है जिसके कारण इस पर खुलकर चर्चा नहीं होती?

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *