अजमेर में पटवारी हड़ताल: ग्रामीणों की बढ़ी परेशानी, आज से पैन डाउन शुरू; 15 जनवरी से चल रहा अतिरिक्त कार्य बहिष्कार, 9 मार्च से सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार का ऐलान


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Villagers Increased, Pan down From Today; Additional Work Boycott Going On From 15 January, Announcing Complete Work Boycott From 9 March

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अजमेर42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पटवारियों की ओर से जयपुर में गत दिनों दिया गयाअजमेर सम्भाग का धरना-फाइल फोटो

  • अजमेर जिले में 550 पटवार मंडल, 282 पटवारी ही कार्यरत
  • तीन सूत्री मांगों को लेकर किया जा रहा आन्दोलन

अजमेर जिले के ग्रामीणों की समस्या अब और बढ़ गई है। जमीन व अन्य कार्य पटवारी हड़ताल के कारण गत 15 जनवरी से ही प्रभावित हो रहे थे और सोमवार से पटवारियों ने पैन डाउन हड़ताल शुरू कर दी है। साथ ही तीन सूत्री मांगे नहीं माने जाने पर 9 मार्च से सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार का ऐलान कर दिया है।

तीन सूत्री है ये है मांग

पटवार संघ के ज़िलाध्यक्ष विनोद रतनू ने बताया कि पटवार संघ अपने ग्रेड पे बढ़ोतरी कर 3600 करने, नो वर्क नो पे का आदेश वापस लेने और वेतन विसंगति को दूर करने के लिए लगातार संघर्षरत है। इन्ही मांगों को लेकर पटवारी आन्दोलन कर रहे है, लेकिन सरकार उनकी मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। अजमेर जिले में 550 पटवार मंडल है और 282 पटवारी ही कार्यरत है। ऐसे में गत 15 जनवरी से अतिरिक्त कार्य के चल रहे बहिष्कार से कार्य प्रभावित हो रहा है।

15 जनवरी से शुरू किया, जारी रहेगा आन्दोलन

रतनू ने बताया कि पटवारियों ने आन्दोलन की शुरूआत 15 जनवरी से की। 30 जनवरी तक अतिरिक्त पटवार मण्डल के कार्य का बहिष्कार किया, लेकिन सरकार ने नहीं सुनी तो इसे आगे बढ़ाते हुए 28 फ़रवरी कर दिया। पटवार संघ ने सभी सरकारी सोशल मीडिया ग्रूप भी छोड़ दिए और 8 फ़रवरी को लाल बस्ता सड़क पर कार्यक्रम रखा। इसके बाद ज्ञापन भी दिए गए। फिर भी सरकार ने कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया और मजबूरन एक मार्च से पैन डाउन हड़ताल की है। फिर भी मांगे नहीं माने जाने पर 9 मार्च से सम्पूर्ण कार्य बहिस्कार किया जाएगा।

यह कार्य हो रहे हैं प्रभावित

पटवार मंडलों पर जमीन की नकल, जाति प्रमाण पत्र, पेंशन सत्यापन, प्रधानमंत्री किसान सत्यापन, नामांतरण, KCC, सीमा ज्ञान/पत्थरगढ़ी, समर्थन मूल्य नकल, सम्पर्क शिकायत निस्तारण, अतिक्रमण पर कार्यवाही, गिरदावरी/क्रॉप कटिंग सहित अन्य कार्य प्रभावित हो रहे हैं। ऐसे में ग्रामीणों को परेशानी उठानी पड़ रही है और अब आन्दोलन जारी रहने से ग्रामीणों की परेशानी और बढ़ जाएगी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *