अच्छी पहल: पर्यावरण बचाने के लिए इस बार गाय के गोबर से बनी लकड़ी-कन्डों से होगा होली का दहन, जयपुर के सभी 250 वार्डो में शुरू किया अभियान


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • In Order To Save The Environment, This Time The Burning Of Holi With Cow dung Wood cans Will Be Started, The Initiative Started In All 250 Wards

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जयपुर नगर निगम ग्रेटर और हैरिटेज क्षेत्र में कुल 500 स्थानों पर इस तरह कार्यक्रम करवाने का लक्ष्य है।

जयपुर नगर निगम ग्रेटर के उपमहापौर पुनीत कर्णावट ने पर्यावरण बचाने की नई पहल शुरू की है। उन्होंने जयपुर नगर निगम ग्रेटर और हेरिटेज के सभी पार्षदों व अन्य जनप्रतिनिधियों से होली का दहन कार्यक्रम पर इस बार गोबर से बनी लकड़ी (गोकाष्ठ) और कन्डों से करने की अपील की है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस पहल के तहत 250 वार्डो में 500 स्थानों पर हाेलिका का दहन इसी तरह से करने का संकल्प लिया है।

उपमहापौर ने बताया कि पेड़ कटने से बचाने के लिए ये अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा सभी 250 वार्डो के पार्षदों और अन्य जनप्रतिनिधियों के सहयोग से अभियान में वार्डो में स्थित कॉलोनियों की विकास समितियों, व्यापार संगठनों व सामाजिक संगठनों को भी जोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि गोकाष्ठ और कन्डों से होलिका दहन से न केवल पर्यावरण का संरक्षण की एक पहल होगी, बल्कि इसकी खरीद करने से गोशालाओं को आर्थिक संबल भी मिलेगा।

500 स्थानों पर इस तरह कार्यक्रम करवाने का लक्ष्य

उपमहापौर ने बताया कि हमारा लक्ष्य कम से कम 250 वार्डो में 500 स्थानों पर इस तरह का कार्यक्रम आयोजित करवाने का लक्ष्य है। इससे हजारों टन लकड़ी जलने से बचेगी और पेड़ कटने से। उन्होंने बताया कि अगर ये अभियान सफल होता है तो लगभग 100 पेड़ों को काटने से जो लकड़ी उपलब्ध होती है वह बचेगी यानी 100 पेड़ बचेंगे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *